Wednesday, July 24th, 2024
Close X

2 जुलाई से DAVV में एमबीए-एमसीए पाठ्यक्रम मेंआनलाइन काउंसिलिंग, शेड्यूल जारी

इंदौर
 मास्टर आफ मैनेजमेंट (एमबीए) और मास्टर आफ कम्प्युटर साइंस (एमसीए) पाठ्यक्रम में प्रवेश को लेकर डायरेक्टोरेट आफ टेक्नीकल एजुकेशन (डीटीई) ने आनलाइन काउंसिलिंग का शेड्यूल जारी कर दिया है। दोनों पाठ्यक्रम में 2 जुलाई से पंजीयन शुरू होंगे।

पहले चरण में प्रवेश परीक्षा देने वाले विद्यार्थियों को मौका दिया जा सकेगा। डीटीई ने प्रवेश प्रक्रिया संबंधित दिशा-निर्देश भी पोर्टल पर दिए है। विद्यार्थियों को 10वीं-12वीं व स्नातक अंतिम वर्ष की अंकसूची के अलावा प्रवेश परीक्षा का स्कोर कार्ड भी उपलोड करना होगा।

डीटीई के मुताबिक प्रदेशभर में एमबीए की 80 हजार और एमसीए में 30 हजार सीटों पर विद्यार्थियों को प्रवेश दिया जाएगा। देवी अहिल्या विश्वविद्यालय के दायरे में आने वाले 76 कालेजों की 13 हजार विद्यार्थियों प्रवेश ले सकेंगे। जबकि एमसीए में 2 हजार सीटें है। विद्यार्थियों को दस दिनों का समय आवेदन करने के लिए दिया जाएगा।

पंजीयन की प्रक्रिया होने के बाद छात्र-छात्राएं अपने दस्तावेज अपलोड कर सकेंगे। मेरिट के आधार पर विद्यार्थियों को सीटें आवंटित की जाएगी। निजी कालेज संचालक संघ की पदाधिकारी डा. कविता कासलीवाल का कहना है कि दूसरे चरण से स्नातक उत्तीर्ण वाले विद्यार्थियों को भी प्रक्रिया में शामिल किया जाएगा।


अहिल्या केंद्रीय पुस्तकालय के परिसर में बनेगा मेट्रो स्टेशन और पार्किंग

शासकीय श्री अहिल्या केंद्रीय पुस्तकालय के परिसर में मेट्रो स्टेशन बनाया जाएगा। परिसर के नवग्रह नक्षत्र उद्यान में स्टेशन और मेट्रो की पार्किंग बनाई जाएगी। पुस्तकालय की परामर्शदात्री समिति के अध्यक्ष दीपक सिंह की अध्यक्षता में आयोजित बैठक में इस पर सैद्धान्तिक सहमति मिल चुकी है।

संभागायुक्त दीपक सिंह द्वारा मेट्रो पार्किंग के साथ इसे पुस्तकालय एवं सभागृह की कॉमन पार्किंग बनाने की बात कही गई। मेट्रो से इसके बदले पुस्तकालय के लिए राजस्व भी दिया जाएगा। शासकीय अहिल्या केंद्रीय पुस्तकालय में संभागायुक्त दीपक सिंह की अध्यक्षता में बैठक का आयोजन किया गया।

बैठक में प्रीतमलाल दुआ सभागृह के आंतरिक भाग के नवीनीकरण कार्य किये जाने पर चर्चा की गई। बताया गया कि एक करोड़ 55 लाख रूपये की लागत से प्रीतमलाल दुआ सभागृह के आंतरिक भाग का नवीनीकरण किया जायेगा।

इस कार्य के लिए अभी पुस्तकालय द्वारा 50 लाख रूपये की राशि प्रदान की जाएगी। कलेक्टर आशीष सिंह द्वारा 25 लाख रूपये की राशि रेडक्रॉस से देने की बात कही गई। बैठक में स्मार्ट सिटी द्वारा डिजिटल लाइब्रेरी बनाए जाने के प्रस्ताव को समिति द्वारा सहमति दी गई।

Source : Agency

आपकी राय

15 + 7 =

पाठको की राय