Wednesday, July 24th, 2024
Close X

स्मार्टफोन अपडेट को हल्के में लेना पड़ सकता है भारी: नजरअंदाज करने से हो सकती हैं ये समस्याएं

फोन में आए दिन नए सॉफ्टवेयर अपडेट्स आते रहते हैं, ऐसे में इन्हें इंस्टॉल करना बेहद ही जरूरी हो जाता है. सॉफ्टवेयर अपडेट्स  के साथ आपको काफी सारे नए फीचर्स तो मिल ही जाते हैं, साथ ही साथ आपको अच्छी इंटरनेट स्पीड और जोरदार स्मूदनेस भी मिल जाती है. हालांकि आप अगर अपने फोन के अपडेट को नजरअंदाज करते रहते हैं तो आप यकीन मानिए ऐसा करना आपके फोन को नुकसान पहुंचा सकता है. अगर आप इस बारे में नहीं जानते हैं तो आज हम आपको इस बारे में विस्तार से बताने जा रहे हैं कि ये कैसे फोन के लिए खतरनाक साबित हो सकता है.

उड़ सकता है मदर बोर्ड

अगर आप लंबे समय से अपने स्मार्टफोन के सॉफ्टवेयर को अपडेट नहीं कर रहे हैं और इसे नजरअंदाज किए जा रहे हैं तो ध्यान रखिए कि इससे आपके स्मार्टफोन कम मदरबोर्ड उड़ सकता है और पूरी तरह से काम करना बंद कर सकता है जिसके बाद आपका स्मार्टफोन किसी भी काम का नहीं रहेगा और ना तो आप इसे स्टार्ट कर सकते हैं और ना ही इसका इस्तेमाल कॉलिंग और मैसेज में कर सकते हैं

ओवरहीटिंग की समस्या

किसी भी स्मार्टफोन का सॉफ्टवेयर जब कभी भी अपडेट किया जाता है तो उससे स्मार्टफोन की स्पीड में इजाफा होता है और स्पीड में इजाफा होने की वजह से इसमें मौजूद और हीटिंग की समस्या कम होती है लेकिन आप अगर लगातार स्मार्टफोन अपडेट को नजरअंदाज कर रहे हैं तो ध्यान रखिए कि इससे ओवरहीटिंग की समस्या और ज्यादा बढ़ जाएगी और आपको काफी परेशानी होगी और स्मार्ट फोन हैंग करने लगेगा.

लैगिंग की समस्या

लैगिंग की समस्या आपके स्मार्टफोन में तब देखने को मिलती है जब आप लगातार इसका सॉफ्टवेयर अपडेट नजरअंदाज करते रहते हैं. ऐसे में आप मल्टीटास्किंग नहीं कर सकते हैं साथ ही साथ आपको गेम खेलने में या फिर वीडियो स्ट्रीमिंग में दिक्कत आती है. अगर आप अपने स्मार्टफोन में लैगिंग की समस्या से छुटकारा चाहते हैं तो अपने सॉफ्टवेयर को अपडेट करना बंद कर दीजिए.

स्मार्टफोन हो सकता है ब्लास्ट

जवाब अपने स्मार्टफोन का सॉफ्टवेयर अपडेट नहीं करते हैं तो इसमें कई तरह की समस्याएं होने लगती हैं जिनमें ओवरहीटिंग की समस्या सबसे बड़ी है जिसकी एक वजह यह भी है कि आपके स्मार्टफोन का प्रोसेसर अपडेट ना होने की वजह से स्लो हो जाता है ऐसे में हैंगिंग की समस्या शुरू हो जाती है और ऐसा होने पर ओवरहीटिंग काफी ज्यादा बढ़ जाती है, जब ओवरहीटिंग की समस्या लगातार बनी रहती है तो इसकी वजह से बैटरी पर भी प्रभाव पड़ता है और स्मार्टफोन की बैटरी अगर जरूरत से ज्यादा गर्म हो जाए तो यह ब्लास्ट भी हो सकती है और स्मार्टफोन किसी बम की तरह फट सकता है

Source : Agency

आपकी राय

14 + 12 =

पाठको की राय